लकड़ी माफिया हरे भरे पेड़ काट कर प्रकृति के साथ कर रहे हैं खिलवाड़/सहारनपुर में वन अधिकारियों की नाक के नीचे काटे जा रहे हैं हरे भरे पेड़ वन अधिकारी मौन है

रिपोर्ट राजेश कुमार यादव लखनऊ
सहारनपुर जनपद के चिलकाना क्षेत्र मैं वन अधिकारियों की नाक के नीचे लकड़ी माफिया काट रहे हरे भरे प्रतिबंधित पेड़ जोकि बेखौफ प्रकृति के साथ कर रहे हैं खिलवाड़ चिलकाना क्षेत्र के ग्राम परसागढ़ उर्फ शलीरा मैं सरदारों के फार्म हाउस से लकड़ी माफियाओं द्वारा हरे,भरे,पेड़ पीपल व गुल्लर काटा गया है जोकि प्रतिबंधित है एवं फार्म हाउस के किनारों पर हाल समय खड़े बड़ी मात्र पर शीशम व आम के पेड़ों को गलत तथ्यों पर आधारित परमिशन कराने की फिराक करते हुए जिन्हें लकड़ी माफिया प्रशासन की आंखों में धूल झोंक अवैध रूप से कांग्रेस नेता की छत्रछाया में काटने की फिराक में लगे हुए हैं/
आपको बता दें कि उ0प्र0 जिला सहारनपुर के ब्लॉक सरसावा थाना चिलकाना क्षेत्र के ग्राम परसागढ़ उर्फ शलीरा मैं रविदास आश्रम खड़ंजा पोल्ट्री फार्म एवं सरदारों के डेरा मार्ग पर देवा सिंह आदि के परिवार वालों का फार्म हाउस मैं जिस में लगे पेड़ जोकि लगभग 40 लाख रुपए मैं लकड़ी ठेकेदारों द्वारा खरीदे गए थे जिसमें प्रतिबंधित वह अप्रतिबंधित पेड़ है जैसे कि प्रतिबंधित(शीशम)(आम)(गूलर)(पीपल) वह अप्रतिबंधित पेड़ जैसे कि लिप्टिस,पॉपुलर,जमाया, जो कि सभी 95 परसेंट हरे भरे पेड़ है जिनमें से अप्रतिबंधित पेड़ सभी काट लिए गए हैं के साथ-साथ प्रतिबंधित पेड़ गुल्लर व पीपल भी काट लिया गया है हाल समय मौजूदा बड़ी मात्र में हरे भरे प्रतिबंधित पेड़ शीशम व आम जिन्हें कांग्रेस नेता की छत्रछाया में प्रशासन की आंखों में धूल झोंक गलत तथ्यों पर नाम मात्र परमिशन की आड़ में गुपचुप रूप से लकड़ी माफिया काटने की फिराक में लगे हुए हैं/
अब देखना है कि प्राकृती के साथ खिलवाड़ करने वाले लकड़ी माफियाओं के विरुद्ध संज्ञान लिया जाएगा या फिर वन अधिकारी मौन बने रहेंगे?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *