बिजली विभाग के सहायक को मारने-पीटने के मामले में ठेकेदार को मिली अंतरिम अग्रिम जमानत


रिपोर्ट. साधना सिंह एडवोकेट विधि संवाददाता

वाराणसी। प्रभारी जिला जज अशोक कुमार सिंह यादव की अदालत ने बिजली विभाग के कार्यालय में घुसकर कार्यालय सहायक को मारने-पीटने के मामले में आरोपित ठेकेदार विजय कुमार श्रीवास्तव की अंतरिम अग्रिम जमानत अर्ज़ी मंजूर कर ली। अदालत ने पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने की दशा में आरोपित को 50-50 हजार रुपए की दो जमानतें एवं बंधपत्र देने पर रिहा करने का आदेश दिया।

बचाव पक्ष के अधिवक्ता अनुज यादव व विकास सिंह के अनुसार मंडुआडीह थाना क्षेत्र के बरईपुर स्थित विधुत वितरण खंड (द्वितीय) के कार्यालय सहायक ने एक अप्रैल 2021 को मंडुआडीह थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। आरोप था कि महमनापुरी कॉलोनी निवासी ठेकेदार विजय श्रीवास्तव द्वारा अवैध रूप से बिना मुख्यालय से धनराशि प्राप्त हुए बीजको के भुगतान के लिए कई दिनों से दबाव बना रहे थे। इस पर जब कार्यालय सहायक ने बिना मुख्यालय से धन प्राप्त हुए भुगतान करना सम्भव नहीं होने की बात कही गई। इस पर आक्रोशित होकर ठेकेदार विजय श्रीवास्तव डिवीजन कार्यालय में घुस आए और वहां मौजूद आफिस स्टाफ के सामने ही कार्यालय सहायक को मारने-पीटने लगे। इस पर वहां मौजूद कर्मचारियों ने बीचबचाव करने पर जान से मारने की धमकी देते हुए वहां से चले गए। अभी प्रार्थी अपनी चोटों को देख ही रहा था कि तभी पुनः ठेकेदार कमरे आये और उसे मारने-पीटने लगे। शोर सुनकर जब अन्य लोग जुटने लगे तो ठेकेदार गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए वहां से भाग निकला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *